0

 भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत ने सोमवार को कहा है कि केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन लंबा खिंच सकता है. टिकैत ने किसानों से लुटेरों के सरदार को दिल्ली से बाहर करने की अपील की है. टिकैत ने बिना किसी का नाम लिए कहा है कि वह लुटेरों का अंतिम बादशाह है, उसे दिल्ली से बाहर किया जाना चाहिए.

व्यापारी-भिखमंगे को देश और खेत से प्यार नहीं होता

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि टिकैत हनुमानगढ़ जिले के नोहर में किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा है कि यह लड़ाई लंबी चलेगी.. जब तक न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर कानून नहीं बने, यह लडाईयां लंबी लड़ी जायेंगी. आप तैयारी रखो दिल्ली तक मार्च करने की. टिकैत ने कहा है कि व्यापारी और भिखमंगे को देश और खेत से प्यार नहीं होता.

बेरोजगारी फैल रही है

टिकैत ने आगे कहा है कि भिखारी को जहां ठीक धन मिलता है वह वहीं चला जाता है और इसी प्रकार व्यापारी वहीं काम करता हैं जहां उसे मुनाफा मिलता है. ऑल इंडिया किसान सभा ने विभिन्न किसान नेताओं के नेतृत्व में राजस्थान के विभिन्न हिस्सों में 22 फरवरी से 26 फरवरी तक कई किसान महापंचायत आयोजित करने की घोषणा की थी. उन्होंने कहा है कि युवाओं को रोजगार इसी जमीन से तलाश करना होगा क्योंकि बेरोजगारी फैल रही है.

Rajasthan Budget 2021: मुख्यमंत्री ने फाइनल किया बजट, CMR में प्रदेश के बजट पर लगाई मुहर

Previous article

Rajasthan Budget 2021: टैबलेट में बंद बजट पहुंचा विधानसभा, इस बार पूरी तरह पेपरलैस होगा बजट

Next article

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *