0

 हमारे समाज में जहां बेटा होने पर खुशियां मनाई जाती हैं वहीं बेटी होने पर घरों में मायूसी छा जाती है. लेकिन नागौर के कुचेरा क्षेत्र के गांव निम्बड़ी चांदावता में बेटी (Girl) के जन्म लेने पर कुछ ऐसा नजारा देखने को मिला जिसके बारे में जानकर आप हैरान रह जाएंगे. एक सामान्य किसान परिवार ने अपने घर में जन्मीं बेटी की खुशी का इतना अनोखा जश्न मनाया की समाज के लिए एक मिसाल कायम कर दी है. उन्होंने अपनी बेटी को घर लाने के लिए एक हेलीकॉप्टर (helicopter) का इस्तेमाल किया है.

दरअसल इस जश्न की वजह ये है कि किसान मदन लाल प्रजापत के घर 35 साल बाद एक बेटी का जन्म हुआ है और इसी खुशी में, उन्होंने अपनी पोती को उसके ननिहाल से बुधवार को हेलीकॉप्टर में घर लाया है. इसके लिए दादा ने अपनी सालभर की पूरी फसल बेच डाली और सात लाख रुपये किराया चुका कर हेलिकॉप्टर (Helicoptar) से अपनी पोती को घर लाये. इस दौरान गांववालों ने भी इस जश्न में भाग लिया था और हेलीपैड से लेकर घर तक के रास्ते में फूल बिछा दिए. प्रदेश में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की शायद ही इससे बड़ी मिसाल मिली हो.

 

बड़े संकट की आहट:8 कोविड अस्पतालों के सभी 885 ऑक्सीजन बेड फुल, नए अस्पताल में इलाज के इंतजार में 5 मौतें

Previous article

राजस्थान में मंत्री V/S कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष:शांति धारीवाल ने नहीं माना गोविंद सिंह डोटासरा का आदेश, फ्री वैक्सीनेशन पर जयपुर में न प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे न बैठक

Next article

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *