0

आत्मनिर्भर भारत की ओर कोटा के युवाओं की पहल, तैयार किया एप

हैप्पीनेस एडुविद्या टीम हैप्पीनेस ने तैयार किया पब्लिक मीटिंग एप व वेबसाइट हैप्पीनेस एडुविद्या
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला व मेंटर बृजेश माहेश्वरी ने की शुरुआत
कोटा.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत आह्वान के साथ ही शुरू हुआ वॉकल फॉर लोकल अभियान के तहत सबसे पहले कोटा आगे आया है। कोटा के युवाओं ने विदेशी एप्लीकेशन्स पर निर्भरता को शून्य करने के लिए आत्मनिर्भर एप्लीकेशन व वेबसाइट तैयार करने की शुरुआत की है। कोटा में इंजीनियरिंग व मेडिकल प्रवेश परीक्षा की तैयारी करवाने वाले लाखों स्टूडेंट्स के बीच उत्साह और हैप्पीनेस बनाए रखने के लिए कार्य कर रही टीम हैप्पीनेस ने यह पहल की है। टीम हैप्पीनेस के मेंटर बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि टीम के सदस्यों द्वारा तैयार किए गए एप व वेबसाइट का विमोचन लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने स्वनिवास पर शनिवार को किया। इस अवसर पर एप का क्यू-आर कोड रिलीज किया गया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला के आवास पर हुए इस कार्यक्रम में विधायक मदन दिलावर, पूर्व विधायक हीरालाल नागर भी मौजूद रहे। मौके पर ही क्यू-आर कोड की मदद से कई लोगों ने एप डाउनलोड करने की शुरूआत की।
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने युवाओं को बधाई देते हुए कहा कि इसी सोच के साथ आगे बढ़कर ही हम तकनीक के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनेंगे और देश को आगे ले जा सकेंगे। उन्होंने कहा कि वर्तमान में तकनीक सूचनाओं के संप्रेषण के साथ-साथ खुशियों के सम्प्रेषण में भी बड़ी भूमिका अदा करती है। हमें तकनीक ही नहीं वरन हर क्षेत्र में आत्मनिर्भरता लाने के लिए प्रयास करना है। इससे अधिक से अधिक युवा जुड़कर लाभ लेंगे, ऐसी शुभकामनाएं हैं।
एप के संबंध में बताते हुए टीम हैप्पीनेस के मेंटर व एलन के निदेशक बृजेश माहेश्वरी ने कहा कि हमें मेड इन इंडिया ब्रांड होने पर गर्व है और यह प्रधानमंत्री के वॉकल फॉर लोकल अभियान में योगदान है। वेबसाइट और एप्लीकेशन के उपयोगकर्ताओं के लिए गोपनीयता व सुरक्षा को पूरी प्राथमिकता दी गई है ताकि किसी भी तरह की सूचना लीक नहीं हो। यह एप 14 दिनों के भीतर आईओएस एवं एन्ड्रायड एप पर उपलब्ध हो जाएगा।
प्रोजेक्ट कन्वीनर आराध्य माहेश्वरी ने बताया कि एप एवं वेबसाइट आत्मनिर्भर होने के नाते वीडियो कांफ्रेंस, वेबिनार, ऑनलाइन केस स्टडी, ऑनलाइन, ऑनलाइन शिक्षा और विभिन्न अन्य ऑनलाइन गतिविधियों के लिए वन स्टॉप सोल्युशन होगा। पब्लिक मीटिंग के लिए भी इस प्लेटफार्म पर अन्य सभी एप से बेहतर सुविधाएं मिलेंगी। स्वदेशी एप की धूम मचने के साथ ही देशवासी विदेश एप्लीकेशन्स पर निर्भरता भूल जाएंगे।
ये मिलेंगी सुविधाएं
इस प्लेटफार्म पर सभी तरह के बाहरी वीडियो चलाए जा सकते हैं।
यदि किसी भी उपयोगकर्ता को किसी भी बात पर संदेह होता है तो उसे स्पष्ट करने के लिए रेज का विकल्प चुन सकता है। इसके अलावा निजी चैट पर जाकर पैनलिस्ट से बात कर सकता है।
-एप पर व्हाइट बोर्ड का ऑप्शन होगा जो कि फैकल्टी या स्पीकर के महत्वपूर्ण बिंदुओं को समझाने में सहयोग करेगा।
एप का उपयोग वीडियो कांफ्रेंस, वेबिनार, ऑनलाइन केस स्टडी, ऑनलाइन, ऑनलाइन शिक्षा और विभिन्न अन्य ऑनलाइन गतिविधियों के लिए वन स्टॉप सोल्युशन के रूप में कर सकते हैं।

hemraj

एमएसएमई को दिया गया आर्थिक पैकेज स्थानीय उद्योग को देगा नई ऊर्जा: आनंद

Previous article

मिसेज एशिया इंटरनेशनल 2018 ने आॅनलाइन जारी किया जेसीआई कोटा स्टार की ‘डांस दीवाने’ प्रतियोगिता का परिणाम

Next article

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *