एसबीआई की जोखिम मुक्त बाल निवेश योजना;  मैच्योरिटी पर 1 करोड़ रुपये तक पाएं
0

एसबीआई की निवेश योजनाओं के साथ अपने बच्चे का भविष्य सुरक्षित करें

एसबीआई की चाइल्ड फिक्स्ड डिपॉजिट स्कीम एक जोखिम मुक्त निवेश योजना है जो बच्चों के वयस्क होने पर उनकी आवश्यकता को पूरा करने में मदद करती है। इस सुरक्षित निवेश योजना के जरिए निवेशक लंबी अवधि के निवेश के जरिए बड़ी रकम हासिल कर सकते हैं।

यह एसबीआई द्वारा बच्चों के सुरक्षित भविष्य को ध्यान में रखकर तैयार किया गया प्लान है। एसबीआई की एफडी जमाकर्ता को गारंटीड रिटर्न प्रदान करती है इसलिए यह कम जोखिम वाले लोगों के लिए एक सुरक्षित दांव है।

SBI इस योजना पर भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा निर्धारित ब्याज दरों के आधार पर ही ब्याज दरें निर्धारित करता है। SBI चाइल्ड प्लान फिक्स्ड डिपॉजिट इन्वेस्टमेंट स्कीम बच्चों की पढ़ाई और शादी के सभी खर्चों के लिए बहुत उपयोगी हो सकती है।

SBI इस योजना के तहत अपने ग्राहकों के लिए 2 प्रकार के प्लान पेश करता है;

१)स्मार्ट विजेता बीमा

2) एसबीआई लाइफ स्मार्ट स्कॉलर।

एसबीआई लाइफ स्मार्ट चैंप इंश्योरेंस

की उम्र के बीच के व्यक्ति 21 और 50 इस पॉलिसी का लाभ उठा सकते हैं। यह आपके बच्चों की शिक्षा को सुरक्षित करने में आपकी मदद करने के लिए SBI की योजना है। 18 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर बच्चे को 4 वार्षिक किश्तों में योजना का लाभ मिलेगा। पॉलिसी क्रेता के बच्चे की अधिकतम आयु 13 वर्ष होनी चाहिए अर्थात केवल 13 वर्ष तक के बच्चों के माता-पिता ही इस पॉलिसी का लाभ उठा सकते हैं।

इस योजना में प्रति माह 10,000 रुपये का निवेश बिना किसी कर कटौती के 1 करोड़ रुपये प्राप्त करता है! आयकर की धारा 80सी के तहत 46,800 रुपये की बचत की जा सकती है। आप सालाना, अर्ध-वार्षिक, त्रैमासिक या मासिक आधार पर प्रीमियम का भुगतान कर सकते हैं। आपात स्थिति में बीमाधारक को पॉलिसी के अनुसार राशि प्राप्त होगी। तक कुल बीमित राशि का 105% इस तरह मिलेगी राशि इस योजना में निवेश करने पर भी आप टैक्स छूट के पात्र हैं।

एसबीआई लाइफ स्मार्ट स्कॉलर योजना

इस योजना में 18 से 57 वर्ष की आयु के माता-पिता निवेश कर सकते हैं। इस योजना के तहत बच्चे की परिपक्वता आयु है 18 से 25 वर्ष. एसबीआई स्मार्ट स्कॉलर योजना के साथ, आपको बाजार प्रतिफल के साथ अपने बच्चों के भविष्य को सुरक्षित करने का अवसर मिलता है। निवेशकों को कई तरह के प्रीमियम भुगतान विकल्प भी मिलते हैं।

वेस्टेड डॉल्फिन

सरकार का पाम ऑयल मिशन; पारिस्थितिक आपदा के लिए एक नुस्खा?

Previous article

राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री का कहना है कि एक बच्चे की नीति अपनाएं

Next article

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खेती