अधिक महिलाएं ले रही हैं योजना का लाभ
0

महिला किसान
पीएम किसान का लाभ उठा रही महिला किसान

PM Kisan Yojana: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 अगस्त को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की अंतिम किस्त जारी की थी। 19,500 करोड़ रुपये से अधिक सीधे 9.75 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में स्थानांतरित किए गए थे। अगली किस्त दिसंबर में जारी की जाएगी।

महिला किसानों के बीच लोकप्रिय हो रहा है पीएम किसान

यह योजना कृषक समुदाय के बीच अधिक से अधिक लोकप्रिय हो रही है। नवीनतम रिपोर्टों के अनुसार, योजना में महिला लाभार्थियों की संख्या भी बढ़ रही है। कुछ साल पहले उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में केवल 15,000 महिलाओं को पीएम किसान योजना के तहत पैसा मिल रहा था। लेकिन आज 85,000 से अधिक महिलाएं इस सरकारी योजना का लाभ उठा रही हैं। इसके अलावा जिले में 6.36 लाख किसान पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ ले रहे हैं।

उन लोगों की सूची जो पीएम किसान के लिए पात्र नहीं हैं?

यहां उन लोगों की सूची दी गई है जो पीएम किसान के लिए पात्र नहीं हैं;

अगर किसान के परिवार में कोई टैक्स देता है तो वह इस योजना का लाभ नहीं ले सकता है। इसी तरह, यदि कोई किसान अपनी कृषि भूमि का उपयोग खेती के लिए नहीं बल्कि अन्य कार्यों के लिए कर रहा है तो वह भी पीएम किसान योजना का लाभ लेने के योग्य नहीं होगा।

सभी सेवानिवृत्त या सेवानिवृत्त पेंशनभोगी जिनकी मासिक पेंशन 10,000 रुपये या उससे अधिक है और पेशेवर जैसे डॉक्टर, वकील, इंजीनियर, चार्टर्ड एकाउंटेंट आदि भी योजना के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं।

क्या पति-पत्नी एक साथ ले सकते हैं पीएम किसान योजना का लाभ

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि पति और पत्नी एक साथ पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ नहीं उठा सकते हैं। अगर सरकार पति-पत्नी दोनों को इस योजना का लाभ लेते हुए पाती है तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

योजना के बारे में

पीएम किसान केंद्र सरकार द्वारा किसानों के लिए शुरू की गई एक सरकारी योजना है। इस योजना के तहत प्रत्येक वर्ष 2000 रुपये की तीन समान किस्तों में किसान के खाते में 6000 रुपये हस्तांतरित किए जाते हैं।

अगर आपने अभी तक रजिस्ट्रेशन नहीं कराया है तो पीएम किसान की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर तुरंत करें- https://pmkisan.gov.in/

वेस्टेड डॉल्फिन

जयपुर की फर्म ने 3 सितंबर को ‘मनी हाइस्ट’ अवकाश घोषित किया

Previous article

राजस्थान के मुख्यमंत्री ने पैरालिंपिक विजेताओं अवनि लेखारा, देवेंद्र झाझरिया, सुंदर सिंह गुर्जर के लिए नकद पुरस्कार की घोषणा की

Next article

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खेती