0
स्वायत्त शासन मंत्री ने किया विकास कार्यो का मौका निरीक्षण
सभी विकास कार्य समय पर गुणवत्ता के साथ पूरे किये जावे- स्वायत्त शासन मंत्री

कोटा.

स्वायत्त शासन, नगरीय विकास एवं आवासन मंत्री शांति धारीवाल ने शुक्रवार को शहर में चल रहे विभिन्न विकास कार्यो का मौके पर जाकर निरीक्षण किया तथा संबंधित अधिकारियों को सभी कार्य निर्धारित समय सीमा में पूर्ण गुणवत्ता के साथ करने के निर्देष दिये। इस दौरान नगर विकास न्यास के विषेषाधिकारी आरडी मीणा, सचिव राजेन्द्रसिंह कैन और अभियंतागण साथ रहे।
गुणवत्तापूर्ण व समय पर हो काम
स्वायत्त शासन मंत्री ने एमबीएस व जेके लॉन अस्पताल के नये ओपीडी ब्लॉक के निर्माण कार्य का निरीक्षण के समय कहा कि भूमिगत पार्किंग व अस्पताल की आवश्यक सेवाओं से संबंधित सभी कार्य गुणवत्ता के साथ समय पर पूरे कराये जायें। उन्होंने भूमिगत निर्माण कार्य में सभी सामग्री की जांच कर उपयोग में लेने के निर्देश दिये। उन्होंने पं. नयनूराम की स्टेच्यू के पास खाली पडी भूमि का उपयोग कर पार्क का विस्तार करने तथा पुरानी जिला परिषद के मार्ग की तरफ स्लोप बनाने व विद्युत ट्रांसफार्मर शिफ्ट कराने के निर्देश दिये। जे.के.लॉन के सामने वोकेशनल स्कूल की भूमि पर बनाये गये पार्किंग एवं दुकान निर्माण कार्य का भी निरीक्ष्ण किया तथा मुख्य सडक मार्ग की चौडाई बढाकर दुकानों का निर्माण कराने के निर्देश दिये।
हरितमा प्रभावित नहीं हो
स्वायत्त शासन मंत्री ने सीवी गार्डन के विस्तार एवं विकास कार्य का निरीक्षण अधिकारियों के साथ पैदल भ्रमण करते हुए किया। उन्होंने कहा कि इस पार्क का विकास इस प्रकार किया जाये कि यह सघन वन क्षेत्र लगे। उन्होंने 5 हजार नीम के पौधे लगवाने, निर्माण कार्य में हरितिमा को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचाने के निर्देश दिये। आम नागरिकों के लिए भ्रमणपथ की चौडाई 12 फीट करते हुए दोनों तरफ कवर्ड करने के निर्देश दिये। उन्होंने पानी भराव वाले सभी स्थानों पर मिट्टी डलवाने, पार्क में बनी हुई रियासतकालीन ड्रेन की चौडाई बढाने तथा राजकीय संग्रहालय के गेट को रियासतकालीन लुक देते हुए तैयार कराने के निर्देश दिये।
अन्टाघर सर्किल पर बनाये जा रहे अंडर पास के कार्य का निरीक्षण किया जहां जेडीबी  कन्या महाविद्यालय में दिवार षिफ्टिंग के कार्य को देखा तथा हटाये जा रहे वृक्षों की ऐवज में दीवार के सहारे दस फिट तक सघन पौधा रोपण करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बारां रोड की तरफ से आने वाली दीवार को सर्किल की दीवार से मिलाते समय इसकी ऐतिहासिकता को बरकरार रखें।
समय एवं गुणवत्ता की हो पालना 
स्वायत्त शासन मंत्री ने एरोड्राम सर्किल पर अण्डरपास निर्माण, सिटी मॉल के सामने फुटऑवर ब्रिज निर्माण, गोबरिया बावडी, अनन्तपुरा चौराहा पर अण्डरपास निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। उन्होंने निर्माण कार्यों की प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि सभी स्थानों पर निर्माण की गति को निरन्तर बरकरार रखते हुए गुणवत्ता के साथ समय पर कार्य पूरा करायें। उन्होंने गैस पाइप लाईन एवं पेयजल पाइप लाईनों के शिफ्टिंग कार्य को प्राथमिकता से करने, अनन्तपुरा चौराहे पर कार्य को गति देने के लिए जेसीबी व अर्थ मूवर्स अतिरिक्त लगाने के निर्देश दिये।
स्वायत्त शासन मंत्री ने घोडे वाले बाबा सर्किल के पास पंजाब के अमृतसर की तर्ज पर बनने वाले सर्किल का निरीक्षण कर वाहनों के आवागमन के लिए भविष्य को ध्यान में रखते हुए सडक की चौडाई रखने, सभी विद्युत तारों को शिफ्ट करवाने, टीलेश्वर महादेव मंदिर के पास से विद्युत ट्रांसफार्मर को हटवाने के भी निर्देश दिये।
रिवर फ्रंट में न हो देरी
स्वायत्त शासन मंत्री ने चम्बल रिवर फ्रंट के निर्माण कार्य का मौके पर निरीक्षण किया जहां सकतपुरा की ओर चम्बल किनारे पर बनाई जा रही सुरक्षा दीवार को 15 जुलाई तक पूरा करने तथा चम्बल के दोनों किनारों पर एक साथ कार्य शुरू करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि आने वाली बरसात के समय निर्माण कार्य में लगी मशीनरी को किसी प्रकार का नुकसान नहीं हो, बैराज के गेट खोले जाने के समय निर्माण कार्य मंे लगी मशीनरी एवं श्रमिकों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचायें। उन्होंने कहा कि कोटा के पर्यटन में यह महत्वपूर्ण कार्य है इसमें किसी भी प्रकार की देरी एवं लापरवाही नहीं हो। उन्होंने मल्टीपरपज स्कूल में निर्माणाधीन पार्किंग का निरीक्षण कर 31 अगस्त तक ग्राउण्ड लेवल का कार्य पूरा करवाने, इंदिरा गांधी सर्किल के फ्लाईओवर के निर्माण के समय कार्य को गति देने के लिए सर्किल की दोनों तरफ कार्य शुरू करने के निर्देश दिये।
ये रहे मौजूद
स्वायत्त शासन मंत्री के दौरे के समय नगर विकास न्यास के विशेषाधिकारी आरडी मीणा, सचिव राजेन्द्र सिंह कैन, मुख्य अभियंता अशोक चौधरी, अतिरिक्त मुख्य अभियंता ओपी वर्मा, अधिशाषी अभियंता जेपी शर्मा सहित क्षेत्र के सभी अभियंतागण मौजूद रहे।

hemraj

दीवारों पर नारा लेखन से किया कोरोना के प्रति जागरूक

Previous article

मुख्य सडकों पर बारात निकासी सहित अन्य गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाया

Next article

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in कोटा