0
अवैध खनन के विरूद्ध कार्यवाही, एक ट्रैक्टर जप्त 

कोटा.

संभागीय आयुक्त कैलाश चन्द मीणा के दिये गये निर्देशों की पालना में बुधवार को शहरी क्षेत्र के आसपास हो रहे अवैध खनन, निर्गमन के विरूद्ध कार्यवाही के लिए अतिरिक्त जिला कलक्टर  नरेन्द्र गुप्ता के नेतृत्व में विभिन्न विभागों के अधिकारीगणों, कर्मचारियों ने रणनीति तैयार कर अवैध खनन के प्रमुख क्षेत्रों में आकस्मिक छापामार कर कार्यवाही की।
पांच विभागों ने की संयुक्त कार्यवाही-
खनिज अभियंता जगदीश चन्द्र नेरावत ने बताया कि राजस्व विभाग से प्रशिक्षु आरएएस दीपक मित्तल के नेतृत्व में तहसीलदार लाड़पुरा गजेन्द्र सिंह सहित  कर्मचारी, पुलिस विभाग से उप अधीक्षक पुलिस पंचम राजेश मेश्राम, थाना अधिकारी आरके पुरम, अनन्तपुरा, कुन्हाड़ी एवं जाप्ता, वन विभाग से सहायक वन संरक्षक, क्षेत्रीय वन अधिकारी, वनपाल तथा वन रक्षक मय जाप्ता, खान विभाग से खनि अभियंता व माइन्स फोरमेन/सर्वेयर, नगर विकास न्यास से उप सचिव, तहसीलदार एवं पुलिस निरीक्षक यूआईटी द्वारा संयुक्त रूप से अवैघ खनन के विरूद्ध कार्यवाही की गई।
एक ट्रैक्टर जप्त-
खनिज अभियंता ने बताया कि संयुक्त टीम द्वारा डाढ़देवी वन क्षेत्र व बरड़ा बस्ती क्षेत्र में जाने वाले सभी रास्तों पर ओचक छापामारी निरीक्षण किया गया। इस दौरान एक टैªक्टर नम्बर आरजे 20 आर ए 8934 पत्थरों से भरा वन सीमा में पाया गया जिसे जप्त किया गया। उन्होंने बताया कि इसके बाद हाइवे के निकट बरड़ा बस्ती में भी सभी रास्तों की तरफ से अलग टीमें बनाकर अवैध खनन स्थल पर छापेमारी की गई जहां मौके पर कोई मजदूर, मशीनरी,वाहन नहीं पाया गया व अवैध खनन बंद पाया। इसी प्रकार नान्ता पत्थर मण्डी के पीछे की ओर वन भूमि व यूआईटी की भूमि में दो टीमें बनाकर आकस्मिक जांच की गई जहां भी अवैध खनन नहीं पाया गया। उन्होंने बताया कि अवैध खनन में जप्त किये गये ट्रैक्टर-ट्रॉली के विरूद्ध वन विभाग द्वारा 17 जून को एफआईआर संख्या 20 दर्ज कर अनुसंधान प्रारंभ किया गया।

hemraj

अलवर: पुलिस इंस्पेक्टर की बेटी ने पीएम-सीएम से लगाई शादी रुकवाने की गुहार, वीडियो वायरल अलवर

Previous article

कोटा जिले में विधानसभा क्षेत्र वार बनेंगे विलेज ऑफ एक्सीलेंस

Next article

You may also like

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in कोटा